राजस्थान मे राजपूताना संस्कृति को बहूत अच्छी तरह से पघडी के द्वारा संभाला गया है. राजस्थान में 14 कि.मी. के अंतर पर अलग अलग पघडी बांधी जाती है.